16 साल की उम्र से ही कामयाबी चूमने लगी क़दम, जानिए क्या है राज़ ?

नई दिल्ली: अकसर लोग कहते हैं ख़ुदी को कर बुलंद इतना कि हर तक़दीर से पहले ख़ुदा बन्दे से पूछे बता तेरी रज़ा क्या है ? इस बात को मुज़फ़्फ़रपुर बिहार की रहने वाली सान्या राज ने बख़ूबी हक़ीक़त में तब्दील कर रही हैं। 20 साल की सान्या राज ने पहली किरण से ख़ास बातचीत में अपनी मशक्क़त के बारे में काफ़ी बेबाकी से जवाब दिया। आपको भी उनकी कहानी पढ़ कर प्रेरणा ज़रूर मिलेगी।

सान्या राज का एक छोटा सा परिवार है। उनके साथ नानी, मां, पापा और छोटा भाई रहता है। उन्होंने मॉडलिंग की शुरुआत 16 साल की उम्र से ही कर दी थी, जिसमे उनके परिवार की तरफ़ से उन्हें काफ़ी सहयोग मिला। वो कहते हैं ना जैसे पौधों की जड़ें मज़बूत होती है तो फल भी अच्छा होता है। ठीक उसी तरह मुझे भी परिवार से काफ़ी सहयोग मिला यही वजह है कि मैं कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ती जा रही हूं।

एक कहावत है कि कुछ पाने के लिए मेहनत और परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही कुछ मेरे साथ भी हुआ। मेरे लिए यह सब करना आसान नहीं था । एक मध्यम वर्ग से होने को वजह से मुझे पैसों की तंगी झेलनी पड़ी और लोगों के ताने भी सुनने को मिले। मेरे परिवार के सिवा मेरे साथ कोई खड़ा नहीं था यहां तक कि मॉडलिंग के ऑडिशन के लिए मैंने दोस्तों से कपड़े लिए। सान्या राज अपनी नानी को अपना रॉल मॉडल मानती हैं। वह बताती हैं कि उनकी नानी से उन्हें हर क़दम पर प्रेरणा मिलती है। सही रास्ते पर चलना सिखाया और कभी भी हार नहीं मानने की शिक्षा भी दी। नानी ने ये हौसला दिया कि ज़िन्दगी कितनी भी मुश्किलें क्यों न आ जाए उसका डट कर सामना करें ओर हिम्मत नहीं हारें।

सान्या राज की उपलब्धि की बात की जाए तो उन्होंने 16 साल की उम्र में मिस मुज़्ज़फ़रपुर और मिस एटिट्यूड ईस्ट ज़ोन का ख़िताब भी अपने नाम किया था जो कि उनके करियर की शुरुआत में पहली कामयाबी थी। वहीं 17 साल की उम्र में 2017 को सान्या राज को मिस बिहार के ख़िताब से नवाज़ा गया। साथ ही उन्होंने बॉलीवुड मिस दिवा का ख़िताब भी अपने नाम किया था। जो कि उनके जीवन की अब तक कि सबसे बड़ी उपलब्धि थी। इन उपलब्धियों को हासिल करने के बाद सान्या राज अपने सपने को साकार करने के सफ़र पर निकल गईं और आये दिन कामयाबी हासिल करती चली गईं।

आपको बता दें कि सान्या राज मॉडलिंग के साथ-साथ डांस, एक्टिंग और सिंगिंग भी करती हैं और इन क्षेत्रों में भी उन्हें काफ़ी अवार्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है। सान्या राज ने हाल में ही दिल्ली में एक थिएटर पूस की रात में किरदार निभाया था जो कि प्रेम चन्द की रचना पर आधारित थी। उसमे सान्या राज ने पर्वतीय के रूप में बतौर लीड काम किया था। इसी के साथ उन्होंने थिएटर की दुनिया में भी क़दम रखा।

सान्या राज की शैक्षणिक योग्यता की बात की जाए तो वो मेडिकल की छात्रा हैं। कुछ दिनों में वो एक बड़े प्रोजेक्ट पर काम करने जा रही हैं। कॉन्ट्रैक्ट की वजह से अभी प्रोजेक्ट का पूरा ख़ुलासा नहीं कर सकती हैं। बहुत जल्द ही आप सभी को ख़ुशख़बरी मिलेगी। सान्या राज अपने दर्शकों से यही उम्मीद करती हैं कि जिस तरह से आप लोगों का उन्हें सहयोग और प्यार मिलता रहा है आगे भी उसी तरह आप लोग उन पर आशीर्वाद बनाए रखेंगे।

Latest articles

Related articles