लड़कियों के लिए एक मिसाल है ये बाइक की रानी…

नई दिल्ली आज समाज में जो लोग लड़कियों के कपड़ो को लेकर आपत्तिजनक बयान देते है और जो यह तय करते हैं की एक महिला के कपड़े पहनने की लंबाई कितनी हो। जिनकी वजह से कुछ लड़कियां आगे नहीं बढ़ पाती उनके लिए यह मिसाल बनकर आई है यह लड़की जो जामिया में बाइक की रानी के नाम से जानी जाती है।

जब वह अपनी चमचमाती बाइक सीबीआर रेपसोल पर जामिया कॉलेज में प्रवेश करती है तो सबके होश उड़ जाते हैं। एक हिजाबी महिला को बाईक पर देख कर सब हैरान हो जाते हैं। यह उन सब लड़कियों के लिए एक मिसाल है जो इन सब वजहों से अपने सपनों की उड़ान नहीं भर पाती।

इसक लड़की का नाम है रोशनी मिस्बाह है जो अरब और संस्कृति में एम.ए की प्रथम वर्ष की छात्रा है। उसकी पहचान ही है उसकी बाइक क्योंकी वह जामिया से पहले एक बाइकरनी है। यह एक पंजाबी मुस्लिम परिवार से आती है।
जब उनसे उनके इस सपने के बारे में पुछा गया तो उनका कहना था कि उनको ये पहचान अपने पिता से मिली है जिन्होंंने कभी भी मुझे मेरे सपनों के लिए जीने से माना नहीं किया। जब उन्होंने पहली बार  अपने पिता से स्कूटर या कार लेने की बजाए बाइक लेने की बात कही तो उन्होंने हां कर दी।
रोशनी का मकसद की वह अपने परिवार के बिजनेस को आगे बढ़ाए और पुरी दुनिया में जागरूकता पैदा करें  औऱ साथ ही महिलाओं को इसके बारे में बताए।मुस्लिम महिलाओं के लिए उनका संदेश है कि हिजाब पहनने से अपने जुनून और सपनों में बाधा नहीं होनी चाहिए, इसके अलावा,  मैं अपने दोस्तों को बाइक की सवारी करने के लिए प्रोत्साहित करती हुं और वे यह जानने के लिए उत्सुक भी रहते हैं।

Latest articles

Related articles

26 Comments

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here