इंदू सरकार मूवी में काम कर चुकीं जश्न अग्नीहोत्री, किस तरह से मारी बालीवुड में इन्ट्री…

दिल्ली की रहने वाली जश्न ने मॉडलिंग करते हुए शोबिज़ में अपनी एक अलग पहचान बनाली है। जश्नसे ख़ास बातचीत की हमारी संवाददाता ज़ेबा वहीदी ने। पढ़िए किस तरह से जश्न ने बालीवुड में मारी एन्ट्री।

1.जश्न सबसे पहले आप ख़ुद के बारे में कुछ बताइए?

मैं दिल्ली की रहने वाली हूं। मैंने अपने कैरियर की शुरूआत मॉडलिंग से की थी करीब मैंने 100 से ज़्यादे प्रिंट शूट्स औऱ टीवी कमर्शियल्स में काम किया है। जिसमें इंडियन ऑयल सर्वो, सहारा, और इनालसा वगैरह शामिल है। अभी हाल ही में इंदू सरकार मूवी यह पल गाना फिल्माया है साथ ही मैंने तीन और हिंदी फ़िल्में भी कर रही हूं।

2.आपको एक्टिंग और मॉडलिंग करते हुए कितने साल हो गए हैं।?

मैं कुछ सालों से मॉडलिंग कर रही हूं और एक्टिंग बस किस्मत में था तो हो गया। जब मधुर मंडारकर जी ने मुझे देखा तो उन्होंने ने मुझे इंदू सरकार मूवी के लिए स्क्रीन टेस्ट के लिए बुलाया। मैंने ऑडिशन दिया और सेलेक्ट भी हो गई।

3.इस फील्ड में किससे प्रेरित होकर आई आपको रॉल मॉड कौन है ?

मेरे बहुत से अभिनेता और अभिनेत्री फैवरेट हैं। उनमें से कुछ रॉल मॉडल भी हैं। लेकिन शोबिज़ मेरे लिए लक बाइ चान्स जैसा हुआ क्योंकि मैंने इसके लिए सोचा नहीं था और ऐसा भी नहीं था कि मैं किसी से प्रेरित थी और मेरा कुछ प्लान था।

4.इस फ़ील्ड में आने पर आपको परिवार वालों का कितना साथ मिला?

भगवान की दया से मेरी माता जी ने मुझे बहुत ज्यादे सपोर्ट किया और अव उन्हें मेरे हर काम में गर्व महसूस होता है।

5.मॉडलिंग और एक्टिंग के अलावा किसी और चीज़ में भी आप की रूची है?

हां मुझे इन सब के अलावा किताब पढ़ना और ख़ाली वक्त में चिड़ीयों को देखना बहुत पसंद है।

6.आपने कभी सिंगिंग के बारे में नहीं सोचा ?

ओ हां मैं एक बहुत अच्छी बाथरूम सिंगर हूं हाहाहा

7.अक्सर कहा जाता है कि शोबिज़ में जितनी चमक बाहर से होती है अन्दर कुछ और ही होता है क्या कहना चाहेंगी आप

एक पूरानी कहावत को याद करते हुए मैं यह कहना चाहूंगी कि चमक और कलक दोनों ही देखने वालों की आंखों में होती है। जो जैसा देखना चाहते हैं उनहें वैसा ही दिखता है। मेरा प्रोफ़ेशन और इससे जुड़ी हर चीज मुझे प्राउड फ़ील करवाती है। शोबिज़ एक बड़े परिवार की तरह है और मै इसका एक हिससा हूं। मेरे लिए शोबिज़ और प्रोफ़ेशन कहीं ज्यादे अच्छा है।

8.आप युथ को क्या संदेश देना चाहेंगी ?

मैं सभी युवाऐओं से यही कहना चाहूंगी कि आप ज़िंदगी में एक लक्ष्य बनाएं, कुछ सपने संजोएं उससे हर हाल में सच कर दिखाने का जज्बा पैदा करें एकदिन ज़रूर कामयाब बनेंगें। ढ़ेर सारी शुभकामनाएं और प्यार के साथ जश्न अग्निहोत्री।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *