एआईएसएफ के स्थापना दिवस पर आयोजित हुआ सेमिनार

बीहट,बेगूसराय(मुर्शीद खान): -ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन बेगूसराय के तत्वावधान में आज वैदेही वल्लभ शरण बालिका उच्च विद्यालय,बीहट में संगठन के 82वें स्थापना दिवस पर सेमिनार आयोजित किया गया । इससे पूर्व मध्य विद्यालय बीहट स्थित शहीद स्मारक पर स्थित एआईएसएफ बिहार के प्रथम राज्य महासचिव चंद्रशेखर सिंह, चंदेश्वरी सिंह, सीताराम मिश्र एवं शहीद वेदी पर पुष्पांजलि अर्पित की गई । शहीद स्मारक से सेमिनार स्थल तक बाइक जुलूस निकाला गया । सेमिनार स्थल पर संगठन का झंडोत्तोलन किया गया।सेमिनार को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता संगठन के राज्य सचिव सुशील कुमार ने कहा कि किसी भी संगठन के लिए 81 वर्ष का सफर असाधारण है।यह सफ़र संघर्षों एवं कुर्बानियों का है। आजादी के 70वीं वर्षगांठ की दहलीज पर खड़े देश में शासकों के चेहरे बदले लेकिन कमोबेश नीतियां वही रही।हालात आज बद से बदतर होती जा रही।कोठारी कमीशन ने केंद्रीय बजट के 10 फ़ीसदी एवं राज्य बजट के 30 फ़ीसदी खर्च करने और जिलाधिकारी, राजनेता, न्यायाधीशों एवं आम इंसान के लिए एक ही स्कूल की वकालत की लेकिन आज कुकुरमुत्ते की तरह प्राइवेट स्कूल खुल गए तो प्राइवेट स्कूलों के सरकारीकरण की लड़ाई तेज करने की जरूरत है।बेगूसराय में दिनकर विश्वविद्यालय के संघर्ष को तेज करने का आवाह्न किया।राज्य उपाध्यक्ष अमीन हमजा ने कहा कि शिक्षा की लड़ाई लड़ने वाले को देशद्रोही करार दिया जा रहा है।शिक्षा नीति आम जनता के पक्ष में नहीं होकर कॉरपोरेट पक्षीय है।रेलवे में बहाली बंद कर रेलवे को बेचा जा रहा है।बढ़ती बेरोजगारी की फौज देश के लिए चिंताजनक है।शिक्षा के निजीकरण एवं भगवाकरण के खिलाफ लड़ाई का संकल्प लेना होगा।एलएनएमयू अध्यक्ष रूपक कुमार ने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार ने शिक्षा बजट में 27 फीसदी की कटौती की है। योजनाबद्ध तरीके से शिक्षा की बर्बादी की दिशा में सरकार बह रही है।स्थानीय युवकों के रोजगार के लिए पहल की मांग करते हुए पेट्रोकेमिकल्स स्थापना की मांग की।स्वागत भाषण जिला सचिव किशोर कुमार ने किया। अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सजग सिंह एवं जिला उपाध्यक्ष राकेश कुमार ने संयुक्त तौर पर किया। हर विश्वविद्यालय को JNU की तरह बनाने की मांग जिला उपाध्यक्ष शंभू देवा ने की। धन्यवाद ज्ञापन बरौनी अंचल सचिव साकेत कुमार ने किया। सेमिनार को राज्य कार्यकारणी सदस्य अमित कुमार, इशु वत्स, धर्मेंद्र कुमार, अमरेश कुमार, शाहरुख, सुमित, रोहित, अतुल, सदरे आलम, आरजू, प्रवीण, अमन, अभिषेक, निशांत, नवनीत, शाहीद अल्तमस, अंकित सहित सैकड़ों छात्र मौजूद थे।सेमिनार के अंत में यूपी के गोरखपुर में असमय मौत के शिकार बच्चों के शोक में 2 मिनट का मौन रखा गया।समापन हम होंगे कामयाब गीत के साथ हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *