पीकू स्पोर्ट्स ने कॉवेस्ट्रो के तत्वाधान में आयोजित किया मैराथन, हज़ारों लोगों ने लगाई दौड़

सेक्टर 128 स्थित जेपी हॉस्पिटल एवं अन्य संस्थानों के सहयोग से रविवार को मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया। पहली मैराथन 5 किलोमीटर, दूसरी मैराथन 10 किलोमीटर एवं हाफ मैराथन 21 किलोमीटर और फुल मैराथन 42 किलोमीटर की थी। इसमें एनसीआर के 1200 लोगों ने हिस्सा लिया। मैराथन दौड़ की शुरुआत सेक्टर 127 स्थित जेपी हॉस्पिटल से हुई। फिर पुस्ता रोड से सेक्टर 135 पुस्ता रोड और वहा से वापस जेपी हॉस्पिटल में आकर खत्म हुई।

पीकू स्पोर्टस के फ़ाउंडर  दीपक महरा के अनुसार दौड़ का एक चक्कर 21 किलोमीटर का था इसलिए 42 किलोमीटर की दौड़ के लिए इस चक्कर को दो बार पूरा किया गया। सुबह 6 बजे से 11 बजे तक हुई इस दौड़ में दिल्ली, नोएडा एवं आसपास के जिलों के लोगों के साथ ही गैर सरकारी संस्थाएं, एनजीओ, कॉर्पोरेट जगत के कई संस्थानों तथा मीडिया जगत से जुड़े लोगों ने भाग लिया। इसका उद्देश्य लोगों को व्यायाम का महत्व बताना और उनके जीवनशैली में बदलाव लाना है।

इंदिरापुरम के 65 वर्षीय धावक राम प्रकाश निर्मल उर्फ आरपी निर्मल भी नोएडा ग्रैंड मैराथन दौड़ में शामिल हुए। हर बार पदक जीतने के लिए बेताब रहने वाले निर्मल ने दस किलोमीटर की दौड़ को करीब एक घंटा 19 मिनट में पूरा किया। रिकॉर्ड दौड़ के लिए उन्हें पदक देकर सम्मानित किया गया। बता दें कि निर्मल ने इसके लिए रोजाना घंटों पसीना बहाया। पैरों में सूजन होने के बाद भी उन्होंने रोजाना करीब पौन घंटे दौड़ते हुए पदक प्राप्त किया। आयोजकों ने निर्मल के दौड़ के प्रति लगाव की प्रशंसा की।

रविवार को दौड़ में पदक जीतने के बाद उसके पास कुल 27 पदक हो गए हैं। साठ साल की उम्र के बाद अब तक 27 पदक जीतने वाले निर्मल ने कहा है कि अब वह पांच साल के भीतर पदकों की संख्या सौ कर देंगे ताकि उनका जोश बना रहे। बता दें कि रविवार को हुई दौड़ को चार वर्गो में विभाजित किया गया। जिसमें पांच किमी, दस किमी, हॉफ मैराथन और मैराथन में रखा गया। इसमें दिल्ली एनसीआर के अलग-अलग आयु वर्ग के धावकों ने भी हिस्सा लिया।

दूसरों के लिए बने प्रेरणास्त्रोत : निर्मल खुद ही नहीं बल्कि दूसरों के लिए भी प्रेरणादायक हैं। दौड़ व सैर पर मिलने वालों को वह हमेशा सकारात्मक सोच रखने, हर स्थिति में मुस्कराने और बेबाकी से अपनी बात कहने की प्रेरणा भी देते हैं। बीते पांच सालों में लगातार एक के बाद एक कई दौड़ जीतने वाले निर्मल की रेस जारी है। वह अब तक दिल्ली एनसीआर में होने वाली 50 दौड़ में भाग ले चुके हैं, जिसके लिए उन्हें 27 पदक और प्रमाण पत्रों से भी नवाजा जा चुका है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *