अयोध्या को सौगात: 84 कोसी परिक्रमा पथ अब एनएच घोषित

अयोध्याकेंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री ने रामनगरी अयोध्या को कई बड़ी सौगात सौंपी। उन्होंने 84 कोसी परिक्रमा मार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग में तब्दील करने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि सरयू नदी में जलमार्ग बनेगा। साथ ही बैराज का निर्माण कराया जाएगा।

यहां बुधवार को राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित परिवर्तन रैली को श्री गडकरी संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने 1056.41 करोड़ रुपए की लागत से जगदीशपुर-फैजाबाद खंड के चार लेन सहित पेव्ड सोल्डर के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण का शिलान्यास किया। उन्होंने बताया कि 250 किलोमीटर लंबे 84 कोसी परिक्रमा मार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने के साथ अफसरों को डीपीआर तैयार करने के निर्देश दे दिए गए हैं। इसी तरह सरयू नदी को जलमार्ग में तब्दील करने और बैराज निर्माण के लिए डीपीआर तैयार कराया जा रहा है। करीब 12 सौ करोड़ रुपए की लागत के इस प्रोजेक्ट के तहत बैराज बना कर राम की पैड़ी को शारदा सहायक नहर से जोड़ा जाएगा ताकि पैड़ी में अनवरत जल प्रवाह हो सके।
अयोध्या से बिहार तक सड़क बनेगी
केंद्रीय मंत्री ने अन्य सौगातों को गिनाते हुए बताया कि फैजाबाद से इलाहाबाद तक चार सौ करोड़ रुपए की लागत से सड़क का निर्माण होगा। अयोध्या से बिहार तक सड़क बनेगी। 107 किलोमीटर लंबे राम वन गमन मार्ग के निर्माण पर 25 सौ करोड़ रुपए खर्च होंगे। यह मार्ग अयोध्या से प्रतापगढ़ तक बनेगा। इसी कड़ी में उन्होंने बताया कि बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के लिए 12 हजार करोड़ रुपए की लागत से सड़क बनवाई जाएगी। इसका भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। अब मान सरोवर जाने के लिए नेपाल व चीन का चक्कर नहीं लगाना होगा। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ से सीधे मान सरोवर जाया जा सकेगा। श्री गडकरी के अनुसार देश में 111 नदियों को जलमार्ग में रूपांतरित किया जा रहा है। करीब 20 हजार किलोमीटर का जलमार्ग बनेगा। गंगा नदी पर इसके लिए चार हजार करोड़ की लागत से काम शुरू करा दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस वक्त ऐसी सड़कें बन रही हैं, जिन पर अगले दो सौ साल तक गड्ढा नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *