शराब बंदी को कामयाब बनाने के लिए जागरूकता कार्यक्रम, कई गणमान्य हस्तियों ने की शिरकत

बिहार में शराबबंदी अभियान को कामयाब बनाने के लिए जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसी बाबत रविवार को बीएमपी के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय काको पहुंचे। शराब बेचने में मदद करने वाले पुलिस कर्मियों की जमकर क्लास लगाई। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस वाले मिले हुये नहीं हैं तो जिले में ट्रक से शराब कैसे लायी जा रही है। शराब के धंधे में पुलिस वालों की दख़ल पर डीजीपी ने कहा कि पांच फीसदी ऐसे लोग हैं, जो आबकारी धंधेबाजों की मदद कर रहे हैं। वहीं 95 फीसदी पुलिस शराबबंदी को कामयाब बनाने की कोशिश कर रहे हैं। जो लोग शराब कारोबारियों की मदद कर रहे हैं, उन पर लगातार नज़र रखी जा रही है और पकड़े जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जा रही है। काको बाजार में आयोजित कार्यक्रम में डीजीपी श्री गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि शराब कारोबारियों की मदद करने वाले चार से पांच सौ सरकारी अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है।

डीजीपी ने लोगों से जात-मजहब और राजनीति से ऊपर उठकर नशा मुक्त बिहार बनाने का संकल्प लेने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्र पर सबसे बड़ा संकट नशा का है। नशे के शिकार व्यक्ति का घर-परिवार, धन-संपत्ति आदि तो नष्ट होता ही है। सबसे पहले उसकी बुद्धि खराब हो जाती है। उन्होंने महिलाओं, बच्चियों, युवा वर्ग का जागरूक करते हुये हाथ उठवाकर नशा मुक्त बिहार बनवाने का संकल्प दिलवाया। डीजीपी ने कहा कि शराबबंदी को सफल बनाने के लिए अकेले सरकार कुछ नहीं कर सकती है। सरकार कानून बना सकती है। लेकिन जब तक जनता नहीं जागेगी, तब तक कानून का प्रभावशाली ढंग से अनुपालन सुनिश्चित कराना मुमकिन  नहीं है। इसलिए मैं आपको जगाने आया हूं। डीजीपी श्री पांडेय ने कहा कि मैं सेवानिवृत होने के बाद भी जब तक शरीर रहेगा समाज को नशा मुक्त बनाने के लिए जागरूक करता रहूंगा। क्रार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार ने कहा कि नशा मुक्त बिहार बनाने के लिए सबका सहयोग चाहिए। इस कार्यक्रम में जदयू ज़िला महासचिव सह प्रवक्ता मुज़्ज़म्मिल ईमाम ने भी शिरकत की और समाज को नशा मुक्त बनाने के लिए लोगों को जागरूक किया। आपको बता देें की पिता (स्व,अकबर इमाम ) के देहांत के बाद पिता की तरह ही राजनीति में तेज़ी उभरते हुए मुज़्ज़म्मिल इमाम अब समाजिक कार्य कर रहे हैं। युवा नेता मुज़्ज़म्मिल इमाम ने राजनीति में अपनी अलग पहचान बनाने में धीरे धीरे कामयाब हो रहे हैं। निस्वार्थ भाव से समाज के लोगों को जागरुक कर रहे हैं। नशा मुक्ति के लिए आए दिन युवाओं को प्रेरित करते रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *