गांव के लिए प्रेरणा स्रोत बना ये किसान, फिर भी सरकार की अंदेखियों से क्यों है परेशान ?

वीरेंद्र चंद्रवंशी, कुर्था(अरवल) : अहमदपुर हारना पंचायत के ग्राम जगदीशपुर में किसानों के लिए आदर्श बने शिवपूजन सिंह।

उत्कर्ष कंपनी द्वारा ब्लैक राइस काला धान, कलावती, काला नमक, जैविक खेती, ऑर्गेनिक खेती, औषधीय खेती कर अरवल जिले में के हर एक घर में आदर्श पेश कर रहे हैं । किसानों के प्रेरणा स्रोत शिवपूजन सिंह मशरूम, सतावर की खेती, सज्जन मुनगा की खेती, सब्जी उत्पादन कर अपने प्रखंड समेत पूरे ज़िले में एक अलग पहचान बनाई है।ko अकाशी कृषि यंत्र, ग्रास कटर, पावर टिलर आधुनिक कृषि यंत्र से बहुत ही आसानी से से खेती करते हैं। इसका लागत मूल ब्लैक राइस ₹300 प्रति किलो बिकता है, कंपनी इन्हें ₹50 प्रति किलो देती है। इसका इसका बीज ₹350 किलो मिलता है। इससे किसानों की अच्छी इनकम हो जाती है। वहीं शिवपूजन सिंह का कहना है कि अब तक सरकार ने उन्हें किसी भी तरह का लाभ सब्सिडी कृषि विभाग द्वारा नहीं दिया है उन्होंने जिला प्रशासन से मांग की है कि कृषि विभाग द्वारासब्सिडी अनुदान दी जाए जिससे और अधिक से अधिक आधुनिक खेती कर सकें। शिवपूजन सिंह ने अलवर जिले के सभी किसानों से अपील की है कि वे खेती कर अपनी आमदनी में सुधार करें।जैसा की राजस्थान में ब्लैक राइस चावल डायबिटीज,शुगर, बीपी सभी में बहुत लाभकारी होता है। इसमें मिनरल वाटर बहुत ज्यादा होता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत ज्यादा इसमें होता है। यही कारण है कि चावल बहुत ही महंगा बिकता है। उन्होंने कहा कि मैं प्रतिवर्ष इस चावल की 2 बीघा में खेती करता हूं, उससे मुझे बहुत अच्छी इनकम हमें मिलती है उन्होंने कहा कि हमें सरकार द्वारा अगर सुविधा मिल जाए तो हम एक से एक बढ़कर जैविक, औषधीय और ऑर्गेनिक खेती कर एक मिसाल कायम हम कर सकते हैं। इस अवसर पर पुरुषोत्तम कुमार, दीपक कुमार, दिनेश कुमार, प्रवीण कुमार, शुभम विवेक कुमार चंचल, जोगेंद्र कुमार, अरविंद कुमार समेत कई लोग उपस्थित थे #Modernfarming #indiafarmerstechnotlogy #indiangovt #farmersneedssupport

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *