नोटों की छपाई पर पड़ सकता है असर , पढ़िए पूरी ख़बर ..

 

currency printing press

पश्चिम बंगाल : सालबोनी  में भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड (बीआरबीएनएमपीएल) कर्मचारी एसोसिएशन ने अथॉरिटी को नोटिस जारी करके कहा है कि 14 दिसंबर से लगातार ओवरटाइम करने की वजह से कई कर्मचारी बीमार हो गए हैं। उन्हें कई तरह की परेशानियों को सामना करना पड़ रहा है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद और एसोसिएशन के अध्यक्ष शिशिर अधिकारी ने बताया कि मैसूर और सालबोनी के करेंसी प्रिंटिंग प्रेस में कई कर्मचारी बीमार हो गए हैं। अथॉरिटी के कहने पर 14 दिसंबर से ये कर्मचारी 12 घंटे की शिफ्ट कर रहे हैं। इस कवायद के पीछे वजह यही थी कि अचानक से 500 और 100 के नोटों की बढ़ी मांग को पूरा किया जा सके। हालांकि इस दौरान कर्मचारियों के ओवरटाइम से उनकी सेहत प्रभावित हो रही है। उन्होंने कहा कि हमने इस बारे में कई बार अथॉरिटी से बात करके ये मांग रखी कि नए कर्मचारियों की नियुक्ति की जाए। जिससे बाकी कर्मचारी भी फिट रह सकें, लेकिन उस मांग पर विचार नहीं किया जा रहा है। कर्मचारी कोई गुलाम नहीं हैं जो लगातार 12 घंटे की शिफ्ट करते रहेंगे। सालबोनी के भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड में 96 लाख नोट रोज छापने की सुविधा उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *